♦इस खबर को आगे शेयर जरूर करें ♦

बाल-गौपाल गौशाला का मामला फिर गरमाया..

मोहाली 17 सितंबर (vijay)। मोहाली के गांव बलौंगी में नजदीक स्थित बाल-गौपाल गौशाला का मामला एक बार फिर सुर्खियों में उस समय गया गया, जब सोशल मीडिया पर यह जानकारी वायरल होने लगी कि बलौंगी के पूर्व पंच केसर सिंह और उनके एक अन्य साथी को पकड़ कर जबरदस्ती गौशाला में ले जाया गया और उनके साथ मारपीट की गई। हालांकि उपरोक्त आरोप को संबंधित थाने की पुलिस ने सिरे से नाकारते हुए दोनों पक्षों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कर अगली कार्रवाही शुरू कर दी है।
गौरतलब है कि उपरोक्त घटना की जैसी पूर्व पंच केसर सिंह और उनके समर्थकों को पता चली, देर शाम बलौंगी थाने पहुंच कर समर्थकों और स्थानीय अकाली लीडरशिप जिसमें अकाली नेता परविंदर सिंह सोहाना,कुलदीप कौर कंग के अलावा अन्य लोगों थाने का घेरावा किया और नारेबाजी भी की। इस दौरान समर्थकों की ओर से पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ जमीन हड़पने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की गई, लेकिन काफी देर बाद पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित कर लिया।
वहीं गौशाला के प्रबंधकों का कहना है कि बलौंगी का पूर्व पंच केसर सिंह अपने साथियों के साथ गौशाला में आया और वहां आकर कर्मचारियों से गाली-गलोज और मारपीट करने लगा। वह कार में अपने एक साथी के साथ आया था। वहां पर मौजूद गौशाला के पदाधिकारियों को धमकाने लगा। उसने शराब पी हुई थी। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने उसे और उसके साथी को हिरासत में लेकर उसका खरड़ अस्पताल से मेडिकल करवाया। दूसरे पक्ष का कहना है कि जब पूर्व पंच गाली गलोज कर रहे थे तो उस समय गौशाला के एक कर्मचारी ने इसका पूरा वीडियो बना लिया जो कि सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। गौशाला के प्रबंधकों ने बताया कि शाम करीब 5 बजे एक कार गौशाला के अंदर आई उसमें 2 व्यक्ति सवार थे। उनमें से एक व्यक्ति तेजी से गौशाला के अंदर गया और गाली गलोज करने लगा। उसने वहां मौजूद कर्मचारियों के साथ भी मारपीट की। उसके साथ ही वह यह बोल रहा था कि इस जमीन को लेकर उसने केस किया हुआ है और वह बलौंगी का केसर सिंह है। इस केस की 25 तारिख को सुनवाई है। उस दिन सभी को यहां से निकाल दिया जाएगा। जगह खाली करवा दी जाएगी। यह जमीन उनकी है।

उन्होंने बताया कि जब उन्हें कहा गया कि भले ही केस किया हुआ है, लेकिन वो शराब पीकर यहां क्यों आए हैं। उसके साथ आए व्यक्ति ने भी वीडियो बनानी शुरू कर दी और उनके कैमरे पर हाथ मारा। उसके बाद यह दोनों अपनी कार में बैठकर भाग गए।
केसर सिंह को लेकर बाल गोपाल गौशाला के सदस्यों की ओर से बलौंगी पुलिस को शिकायत की गई। जिसके बाद पुलिस ने दोनों व्यक्तियों को हिरासत में लेकर उनका खरड़ सिविल अस्पताल से मेडिकल करवाया। मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी  एवम एसएचओ बलौंगी राजपाल सिंह ने बताया कि दोनों का मेडिकल करवाया गया है और मारपीट का मामला दर्ज कर अगली कार्रवाई शुरू कर दी गई है।
बाक्स
अकाली लीडर ने लगाया थाने में स्थानीय मंत्री और उनके भाई पर गुंडागर्दी करने का आरोप
मोहाली। बलौंगी थाने में पूर्व अकाली सरपंच के मामले में पहुंची अकाली समर्थकों और मोहाली जिले की स्त्री विंग की जिलाध्यक्ष कुलदीप कौर कंग ने कहा कि पूर्व पंच केसर सिंह ने बलौंगी गौशाला जमीन मामले में केस किया हुआ है जिसके चलते स्थानीय मंत्री और उनके भाई की ओर से लगातार उन पर केस को वापस लिए जाने के लिए दवाब बनाया जा रहा है। लेकिन जैसा वह चा रहे हैं ऐसा नहीं होने दिया जाएगा और अकाली दल का पूर स्टैंड रहेगा और जमीन बलौंगी की है जिसे हड़पने नहीं दिया जाएगा। इस दौरान थाने में पूर्व पंच केसर सिंह की धर्मपत्नी, उनका बेटा और समर्थक उपस्थित थे।

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button




स्वतंत्र और सच्ची पत्रकारिता के लिए ज़रूरी है कि वो कॉरपोरेट और राजनैतिक नियंत्रण से मुक्त हो। ऐसा तभी संभव है जब जनता आगे आए और सहयोग करे


जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Close
Close
Website Design By Bootalpha.com +91 84482 65129